शुक्रवार, फ़रवरी 14, 2020

अपन दोनों

देखते,सुनते,झगड़ते चौंतीस वर्ष   
हो गये
************
तुम्हारे मेंहदी रचे हाथों में
रख दी थी मैंने
अपनी भट्ट पड़ी हथेली
और तुमने
महावर लगे पांव
रख दिये थे 
मेरे खुरदुरे आंगन में

साझा संकल्प लिया था 
कि,बढेंगे मंजिल की तरफ एक साथ

सुधारने लगे खपरैल छत
जिसमें
गर्मी में धूप 
छनकर नहीं
सूरज के साथ उतर आती थी
बरसात बिना आहट के
सीधे कमरे में बरस जाती थी
कच्ची मिट्टी के घर को
बचा पाने की विवशताओं में
पसीने की नदी में
फड़फड़ाते तैरते रहे 

फासलों को हटाकर
अपने सदियों के संकल्पित
सपनों की जमीन पर लेटकर
प्यार की बातें करते रहे
अपन दोनों

साझा संकल्प तो यही लिया था
कि,मार देंगे
संघर्ष के गाल पर तमाचा
और जीत के जश्न में
हंसते हुए
एक दूसरे में
डूब जायेंगे 
अपन दोनों---

"ज्योति खरे"

26 टिप्‍पणियां:

Rohitas ghorela ने कहा…

बहुत सुंदर लग रहे हो दोनों।
जोड़ी सच ऊपर वाला बनाता है।
उम्दा रचना
प्यार बढ़ता रहे।

आइयेगा- प्रार्थना

रेणु ने कहा…

वाह, आदरणीय सर, जीवन साथी अगर कवि हो तो बहुत भाग्यशाली है वो पत्नी , जिसे वर्षगांठ का उपहार ऐसी प्यारी कविता मिलती है । बहुत ही बेबाक और स्नेहिल भावों से भरी प्यारी सी रचना , जिसका आत्मीयता भरा संवाद मन को छू जाता है। आप दोनों को हार्दिक शुभकामनायें और ढेरों बधाईयाँ। 🙏🙏🙏 प्यार और सहयोग से भरी इस जीवन यात्रा में दोनों का साथ और प्यार अटल -अमर हो । पुनः शुभकामनायें। आत्मीयता भरा चित्र बहुत प्यारा है। 👌👌💐💐💐💐💐💐💐💐💐

सुशील कुमार जोशी ने कहा…

शुभकामनाएं आप दोनों के लिये। खुश रहें और बाँटते भी चलें इसी तरह।

Jyoti khare ने कहा…

आभार आपका

Nitish Tiwary ने कहा…

बहुत सुंदर प्रेम भाव।
शुभकामनाएं।

Anita saini ने कहा…

जी नमस्ते,
आपकी इस प्रविष्टि् के लिंक की चर्चा रविवार(१६ -0२-२०२०) को 'तुम्हारे मेंहदी रचे हाथों में '(चर्चा अंक-१३३६) पर भी होगी
चर्चा मंच पर पूरी पोस्ट अक्सर नहीं दी जाती है बल्कि आपकी पोस्ट का लिंक या लिंक के साथ पोस्ट का
महत्वपूर्ण अंश दिया जाता है।
जिससे कि पाठक उत्सुकता के साथ आपके ब्लॉग पर आपकी पूरी पोस्ट पढ़ने के लिए जाये।
आप भी सादर आमंत्रित है
**
अनीता सैनी

Anita saini ने कहा…

शादी की सालगिरह मुबारक हो सर. मेहंदी का बड़ी ख़ूबसूरती से ज़िक्र करते हुए आपने भावप्रवण अभिव्यक्ति को उकेरा है.
बहुत-बहुत बधाई.

Meena Bhardwaj ने कहा…

शादी की सालगिरह पर हार्दिक शुभकामनाएं सर ! बेहद खूबसूरत सृजन ।

SUJATA PRIYE ने कहा…

शादी की सालगिरह पर हार्दिक शुभकामनाएँ एवं वधाई आप दोनो को।आपकी रचना बेहद खूबसूरत एवं प्यार भरा है।बहुत सुंदर अभिव्यक्ति।सादर नमस्कार।

Anita Laguri "Anu" ने कहा…

मेरी ओर से भी आप दोनों को शादी की बहुत-बहुत शुभकामनाएं... सालगिरह के तोहफे के रूप में इतनी अच्छी कविता आप ने लिख डाली वाकई में पढ़ कर बहुत अच्छा लग रहा है...💐👌💐👌।

Kamini Sinha ने कहा…

शादी के सालगिरह की ढेरों शुभकामनाएं सर ,ये साथ और ये प्यार हमेशा बनी रहें ,बड़ी प्यारी जोड़ी हैं आप दोनों की और कविता के तो क्या कहने ,सादर नमस्कार आप दोनों को

Onkar ने कहा…

सुन्दर प्रस्तुति. शादी की सालगिरह पर हार्दिक शुभकामनाएं

Jyoti khare ने कहा…

आभार आपका

Jyoti khare ने कहा…

आभार आपका

Jyoti khare ने कहा…

आभार आपका

Jyoti khare ने कहा…

आभार आपका

Jyoti khare ने कहा…

आभार आपका

Jyoti khare ने कहा…

आभार आपका

Jyoti khare ने कहा…

आभार आपका

Jyoti khare ने कहा…

आभार आपका

Jyoti khare ने कहा…

आभार आपका

Jyoti khare ने कहा…

आभार आपका

Anita saini ने कहा…

जी नमस्ते,
आपकी इस प्रविष्टि् के लिंक की चर्चा रविवार(२३-०२-२०२०) को शब्द-सृजन-९'मेहंदी' (चर्चा अंक-३६२०) पर भी होगी।
चर्चा मंच पर पूरी पोस्ट अक्सर नहीं दी जाती है बल्कि आपकी पोस्ट का लिंक या लिंक के साथ पोस्ट का महत्वपूर्ण अंश दिया जाता है।
जिससे कि पाठक उत्सुकता के साथ आपके ब्लॉग पर आपकी पूरी पोस्ट पढ़ने के लिए जाये।
आप भी सादर आमंत्रित है
….
अनीता सैनी

Jyoti khare ने कहा…

आभार आपका

Anuradha chauhan ने कहा…

बहुत सुंदर अभिव्यक्ति

Jyoti khare ने कहा…

आभार आपका