सोमवार, सितंबर 14, 2020

माय डियर लच्छू

माय डियर लच्छू
गुडमार्निंग
आज हिंदी दिवस है
वोकल कार्ड को साफ कर
मतलब गले से
अंग्रेजी को बाहर निकाल कर
रख दे कहीं गिरवी
और गुटक ले हिंदी
क्योंकि, आज अपन को 
ओनली हिंदी में टाक करना है

राजभाषा डिपार्टमेंट ने 
नोटिस सर्व किया है 
आज सभी इंडियन
आल वर्क हिंदी में करेंगे
ईवन 
टॉक भी हिंदी में करेंगे
अपनी अपनी कॉलोनियों की
रोड़ों में
मार्च पास्ट करेंगे
औऱ
गांव गांव
मीटिंग करेंगे
क्रिएटिव वर्क की
क्लास लगाएंगे
जिससे आत्मनिर्भरता 
औऱ डिजिटल इंडिया का
निर्माण होगा

सभी अपनी अपनी
प्रोग्रेस रिपोर्ट के साथ 
क्लासिक फोटोग्राफ 
मंत्रालय को 
सीधे सेंड करेंगे
फिर दिनभर
ट्विटर हेंडिल पर
इनको 
ट्वीट किया जाएगा

यह प्रोग्रेस रिपोर्ट 
विश्व में सर्कुलेट की जाएगी 
जिससे "ओपन द डोर " 
नीति के अंतर्गत 
विकासशील राष्ट्रों की श्रेणी में 
"एन्ट्री" पाने की 
"कन्फर्म" दावेदारी होगी

माय डियर लच्छू
यह भी सुना है
प्रेस क्लब में 
"फ्रीडम फ़ॉर हिंदी" का 
अनाउंस होगा  

अंत में
राजभाषा ऑफिसर
अंग्रेजी वाइन के साथ
देशी चखना खायेंगे

पर डियर लच्छू
अपन तो 
कड़की के दौर से गुजर रहे हैं
विदेशी कहाँ खरीद पाएंगे
अपन तो अपनी 
"ओरिजनल्टी" को ही
"फालो" करेंगे
कलारी में बैठकर 
देशी मदिरा के साथ
पॉपकार्न खायेंगे

तो फिर मिलते हैं
देशी कलारी में
वहीं बैठकर
हिंदुस्तान की चर्चा करेंगे----

"ज्योति खरे"

16 टिप्‍पणियां:

दिगम्बर नासवा ने कहा…

जबरदस्त हिया आपका व्यंग तो कमाल है ...
बहुत बधाई फिर भी आपको हिन्दी दिवस की ...

सुशील कुमार जोशी ने कहा…

लाजवाब :) शुभकामनाएं हिन्दी दिवस की।

Kamini Sinha ने कहा…

सादर नमस्कार ,

आपकी इस प्रविष्टि् के लिंक की चर्चा कल मंगलवार (15-9 -2020 ) को "हिंदी बोलने पर शर्म नहीं, गर्व कीजिए" (चर्चा अंक 3825) पर भी होगी,आप भी सादर आमंत्रित हैं।
---
कामिनी सिन्हा

रेणु ने कहा…

वाह आदरणीय सर , ये तो बहुत खूब रही ! सुंदर कटाक्ष !!!!!!!! हिंदी दिवस की हार्दिक बधाई और शुभकामनाएं|

Onkar ने कहा…

सुन्दर व्यंग्य

Meena sharma ने कहा…

तीखा व्यंग्य !!!

माय डियर लच्छू
यह भी सुना है
प्रेस क्लब में
"फ्रीडम फ़ॉर हिंदी" का
अनाउंस होगा....
हम अपनी संतानों को अंग्रेजी माध्यम या कॉन्वेंट में पढ़ाएँगे तो यही होगा। "फ्रीडम फॉर हिंदी" का अनाउंस होते होते "फ्रीडम फ्रॉम हिंदी" का अनाउंस ना हो जाए एक दिन !!!

ज्योति-कलश ने कहा…

बढ़िया व्यंग्य

Anuradha chauhan ने कहा…

वाह!! बेहतरीन कटाक्ष!! बहुत सुंदर और सार्थक अभिव्यक्ति।

Jyoti khare ने कहा…

आभार आपका

Jyoti khare ने कहा…

आभार आपका

Jyoti khare ने कहा…

आभार आपका

Jyoti khare ने कहा…

आभार आपका

Jyoti khare ने कहा…

आभार आपका

मन की वीणा ने कहा…

जबरदस्त व्यंग्य रचना सीधा प्रहार करती बोल चाल में अपनाये गये आंग्ल शब्द मनोवृति पर सटीक चोट है।
सार्थक सृजन।

Jyoti khare ने कहा…

आभार आपका

Acchisiksha ने कहा…

अति सुन्दर लेख |


Hindi Vyakran Samas